चंद्रयान-3 मिशन

चंद्रयान-3

चंद्रयान-3 मिशन को भारत की स्पेस एजेंसी भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (Indian Space Research Organisation) ISRO ने 14 जुलाई 2023 को दोपहर 2:35 पर श्रीहरिकोटा से चंद्रयान 3 को लांच किया गया 40 दिनों की यात्रा पूरी करके चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर 23 अगस्त 2023 को शाम 6:00 बजे चंद्रयान 3 में चांद की सतह पर सफलतापूर्वक पहुंचकर पूरे विश्व में भारत चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर पहुंचने वाला पहला देश बन गया

चंद्रयान-3 मिशन का मुख्य उद्देश्य

चंद्रयान-3 का मुख्य उद्देश्य लैंडर को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सुरक्षित और सॉफ्ट लैंडिंग करना

चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव के सतह पर पहुंच कर पानी और मिट्टी में रासायनिक तत्व खनिज और प्राकृतिक वातावरण का अध्ययन करना

चंद्रयान 3 मिशन में काम करने वाले कुछ महत्वपूर्ण वैज्ञानिक

इसरो के अध्यक्ष -एस सोमनाथ

चंद्रयान-3 के प्रयोजन निर्देश-वीरमुथवेल

उप प्रयोजन निर्देशक-बी सी. थॉमस

चंद्रयान -1 मिशन (Chandrayan -1 Mission)

भारत की स्पेस एजेंसी भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ISRO ने 15 अगस्त 2003 को चंद्रयान मिशन की शुरुआत की थी इसकी घोषणा अटल बिहारी वाजपेई द्वारा की गई थी भारत सरकार ने चंद्रयान -1 (Chandrayan -1 Mission) मून मिशन की मंजूरी नवंबर 2003 में दी चंद्रयान- 1 भारत सरकार द्वारा मंजूरी मिलने के बाद लगभग 5 साल बाद भारत का पहला चंद्रयान मिशन बनकर तैयार हुआ इसको 22 अक्टूबर 2008 को ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण ( PSLV-C11 ) का उपयोग करके श्रीहरिकोटा से सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया गया अंतरिक्ष यान चंद्रयान -1 ने चंद्रमा की सतह से 100 किमी की ऊंचाई पर चंद्रमा के चारों ओर परिक्रमा करने लगा चंद्रमा के चारों ओर 3400 से अधिक परिक्रमा करने के बाद 29 अगस्त 2009 को चंद्रयान-1 मिशन समाप्त हुआ

चंद्रयान -1 मिशन (जानकारी)

निर्माताइसरो
मिशन जीवन2 वर्ष
चंद्रयान -1 का वजन1380 किग्रा
प्रक्षेपण यानध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण
( PSLV-C11 )
चंद्रयान -1 लॉन्च22 अक्टूबर 2008
चंद्रयान-1 समाप्त29 अगस्त 2009
चंद्रयान की शुरुआत15 अगस्त 2003

चंद्रयान-2

इसरो ISRO चंद्रयान -1 की सफलता के बाद चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर खोजबीन करने के लिए चंद्रयान-2 विकसित किया जिसमें एक आर्बिटर लैंडर और रोवर शामिल किया गया है और 22 जुलाई 2019 को श्रीहरिकोटा रेंज से समय दोपहर 2:43 बजे (GSLV MK 3) प्रक्षेपण यान द्वारा लांच कर दिया गया और इसकी लैंडिंग डेट 7 दिसंबर 2019 को प्लेन की गई थी लेकिन चंद्रयान-2 के चंद्रमा पर लैंड होने से पहले ही विक्रम लैंडर से सभी संपर्क टूट गया इसलिए यह मिशन विफल रहा

निर्माताइसरो
मिशन अवधि14 दिन
चंद्रयान- 2 लॉन्च डेट22 जुलाई 2019
कुल खर्चलगभग 978 करोड़
( US141 मिलियन)
चंद्रमा पर लैंड
होने का प्लान
7 सितंबर 2019
लॉन्च की जगहसतीश धवन (श्रीहरिकोटा)
चंद्रयान-2 में शामिल आर्बिटर, लैंडर और रोवर
प्रक्षेपण यानGSLV MK 3

आप कितना जानते हैं चंद्रयान के बारे में Quiz के माध्यम से बताइए

click Kare

PM Awas Yojana New 2023 Online Apply केंद्र सरकार द्वारा Home lone

भारत सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना (PM Awas Yojana 2023) की शुरुआत 25 जून 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी जी ने उद्घाटन किया था इस योजना के तहत नगर कस्बा और ग्रामीण इलाकों में रहने वाले गरीब मजदूर दलित व्यक्ति जिनके पास खुद का घर नहीं है उसे व्यक्ति को PM Awas Yojana New प्रधानमंत्री आवास योजना 2023 के तहत अनुकूल घर प्रदान किया जाएगा सरकार ने 304 कस्बा ,नगरों में घर बनाने का फैसला किया है

PM Awas Yojana 2023 का मुख्य उद्देश्य

प्रधानमंत्री आवास योजना का मुख्य उद्देश्य भारत में गरीब लोगों दलित कमजोर वर्गों के लोगों को जिनके पास घर नहीं है उन ग्रामीण इलाकों में झुग्गी – झोपड़ी वाले और शहरों में रह रहा है जो गरीब लोगों के पास घर नहीं है जो रोड़ों और फुटपाथों पर सोते हैं उन इलाकों में भारत सरकार 2023 से 2024 तक उनके घरों का निर्माण प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत है उनके घरों का निर्माण करेगी

PM Awas Yojana 2023 (लघु जानकारियां)

देशभारत
योजना का नामप्रधानमंत्री आवास योजना
उद्देश्यभारत के बेघर लोगों को घर बनवाना
योजना की शुरुआत 25 जुलाई 2015 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दामोदर दास मोदी द्वारा किया गया
प्रत्येक परिवार को दी गई राशि1.4 लाख रुपए
सरकारी योजनाhttps://www.sarkariyojnaa.com/
प्रधानमंत्री आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइटhttps://pmaymis.gov.in/
PM Awas Yojana 2023 की विशेषताएं

प्रधानमंत्री आवास योजना 2023 के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में बनने वाले 20 स्क्वायर मीटर से बढ़कर 2023 में लगभग उन्हें 30 स्क्वायर मीटर तक कर दिया गया इस योजना में मिलने वाली राशि और सब्सिडी ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को लगभग 1 लाख से ₹30000 तक मिलेगी और शहरी क्षेत्र के लोगों को 1 लाख₹50000 तक की राशि मिलेगी जो कि डायरेक्ट उम्मीदवार के बैंक खाते में आएगी जो उम्मीदवार के आधार कार्ड से लिंक होगा इस योजना को भारत स्वच्छ अभियान से भी जोड़ा गया है जिसमें उसे परिवार को अलग से शौचालय भी दिया जाएगा इस योजना के अंतर्गत उम्मीदवार चाहे तो 80000 रुपए से अधिक लोन भी ले सकता है लेकिन उसे भुगतान करना होगा चाहे तो उम्मीदवार उसे राशि को किस्त के रूप में भी भुगतान कर सकता है और शहरी क्षेत्र के उम्मीदवार₹80000 से अधिक लोन ले सकता है और उसे लोन पर ग्रामीण और शहरी क्षेत्र के लोगों को ब्याज भी नहीं लगेगा

नोट -इस प्रधानमंत्री आवास योजना का नाम 2015 से पहले इंदिरा आवास योजना के नाम से जाना जाता था जाता था

पीएम आवास योजना के लिए पात्रता

इस पीएम आवास योजना (PM Awas Yojana New 2023) का लाभ उठाने के लिए उसे व्यक्ति के पास यह पात्रता होनी चाहिए

  • उम्मीदवार के पास कोई घर ना हो
  • यह योजना भारत के सभी वर्गों के लोगों के लिए है जिनके पास खुद का घर नहीं है और वह अपने जीवन- यापन करने के लिए दिहाड़ी और मजदूरी करते हैं
  • आवेदन करता की उम्र 30 साल से ऊपर होनी चाहिए और उसके पास आधार कार्ड वोटर कार्ड पहचान पत्र होना चाहिए और वह भारत का स्थाई निवासी हो
  • आवेदन करता नहीं किसी भी प्रकार का सरकारी लोन न हो
  • उसे उम्मीदवार के परिवार में किसी भी व्यक्ति के नाम पर जमीन ना हो
  • उम्मीदवार के परिवार में किसी वैक्स व्यक्ति की शादी हुआ हो तो उसे अलग परिवार माना जाएगा

PM Awas Yojana 2023 का लाभ उठाने के लिए जरूरी दस्तावेज

  • उसे उम्मीदवार व्यक्ति की उम्र 30 वर्ष से अधिक होनी चाहिए (आयु प्रमाण पत्र)
  • आधार कार्ड (बैंक खाते से लिंक)
  • मोबाइल नंबर
  • जाति प्रमाण पत्र
  • पैन कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • दो फोटो
  • भारतीय नागरिकता
  • उस उम्मीदवार के पास कोई पक्का मकान ना हो

प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी क्षेत्र के लिए

PM Awas Yojana 2023 के तहत शहरी क्षेत्र के लिए जो लोग जो लोग फुटपाथ पर सोते हैं उनके पास अपना घर नहीं है उनके लिए सरकार 25 स्क्वायर मीटर से बढ़कर 30 स्क्वायर मीटर का घर देगी इस योजना से मिलने वाली राशि और सब्सिडी उसे उम्मीदवार के खाते में 2 लाख रुपए सरकार उनके खाता में ट्रांसफर कर देगी

प्रधानमंत्री आवास योजना 2023 (PMAY) Online Form भरे

प्रधानमंत्री आवास योजना उन लोगों के लिए है जो 2023 में भी बेघर हैं उनके पास घर नहीं है वह परिवार जो गरीबी रेखा से नीचे आता हो और झोपड़पट्टी में रहता हो और जीवन यापन करने के लिए मजदूरी करता है हुए उम्मीदवार प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ऑनलाइन पंजीकरण 2023 के जरिए इस योजना का आवेदन कर सकता है प्रधानमंत्री आवास योजना का फॉर्म भरने के लिए इस लिंक sarkari Yojana को खोल फॉर्म भरे उसे उम्मीदवार की श्रेणी LIG, MIG-1 MIG-2 होनी चाहिए

PM Awas Yojana New 2023 Online Apply प्रधानमंत्री आवास योजना का फॉर्म कैसे भरें

प्रधानमंत्री आवास योजना का ऑनलाइन फॉर्म आवेदन करने के लिए नीचे दिए गए टिप्स को फॉलो करें (PMAY) 2023 Online Apply

सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री आवास योजना के आधिकारिक वेबसाइट PM Awas Yojana जाकर उसे खोलें उसके बाद मेनू (Menu) पर क्लिक करें उसके बाद आपके पास एक ऑप्शन आएगा citizen assessment क्लिक करें उसके बाद आपके स्क्रीन पर चार विकल्प खुलकर आएंगी slum, Dwellers and Benefits , under 3, component किसी एक विकल्प का चुनाव करें उसके बाद आधार कार्ड नंबर भरे उसके अनुसार अपना नाम पता जाती अपने परिवार का मुखिया का नाम कुल सदस्यों के नाम और मोबाइल नंबर इत्यादि भरकर सबमिट बटन पर क्लिक करें

प्रधानमंत्री आवास योजना से कितने लोगों को लाभ मिला

इस प्रधानमंत्री आवास योजना से ग्रामीण इलाकों में रह रहे गरीब लोग दलित मजदूर निम्न वर्ग के लोग जो लोग झुग्गी झोपड़ी में रहते थे जिनके पास अपना खुद का घर नहीं था उन गरीब पिछड़े लोगों को भारत सरकार ने इस योजना के माध्यम से लगभग 140 लाख लोगों का घर निर्माण करवाया और इस योजना PM Awas Yojana (PMYA) की शुरुआत 20 जून 2015 को प्रधानमंत्री ने कहा था 20 जनवरी 2022 तक तक दो करोड़ घरों का निर्माण किस योजना के माध्यम से भारत सरकार करेंगे पूर्ण न होने के कारण इसे बढ़ाकर 2024 तक कर दिया गया इस योजना के माध्यम से भारत में गरीब परिवारों को जिनके पास घर नहीं था उन्हें बहुत भाग मिला जल्द ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार मिलकर बाकी घरों का निर्माण पूर्ण कर देगी