Russia buy India brahmos missile New 2023

Russia buy India brahmos missile आजादी के बाद भारत ने रूस से कई हथियार खरीदे हैं लेकिन अब भारत रूस को ब्रह्मोस मिसाइल बेचने जा रहा है लंबे समय से चल रहे रूस और यूक्रेन के युद्ध में रूस की मिसाइल है कुछ खास काम नहीं कर रही है रूस को इस युद्ध में जीत हासिल करने के लिए भारत रूस से ब्रह्मोस मिसाइल खरीद सकता है इस बात की जानकारी ब्रह्मोस एयरोस्पेस CEO और MD अतुल दिनकर राणे ने दी है इंटरव्यू के दौरान अतुल दिनकर ने बताया कि जब उन्होंने ब्रह्मोस मिसाइल बनाने की शुरुआत की थी तब दुनिया के पास ऐसी कोई डिफेंस हथियार नहीं था और उन्होंने कहा कि यह मिसाइल इतनी खास है कि चीन में तैनात S-400 एयर डिफेंस सिस्टम कुछ नहीं बिगाड़ सकता है कई पश्चिमी के देश और (NATO) के देश जी इस मिसाइल को खरीदने की मांग कर रहा है कुछ समय पहले भारत ने ब्रह्मोस मिसाइल फिलीपींस को बेचा था

ब्रह्मोस मिसाइल बनाने का कारण और इसकी शुरुआत कब हुई

इसके बनने का कारण यह है कि जब 1999 में कारगिल की लड़ाई हुई तब एक ऐसी मिसाइल की जरूरत हुई जो अपने पार्ट को जरूरत के हिसाब से मोड़ सकें

भारत का सबसे घातक हथियार ब्रह्मोस मिसाइल बनाने की आधारशिला 1999 मैं भारत और रूस के बीच रखी गई भारत की ब्रह्मपुत्र नदी का ब्रह्म और रूस की मास्को नदी से मास् लिया और इसका नाम ब्रह्मोस रखा गया

इस मिसाइल को भारत के डी आर डी ओ और रूस के एन पी ओ ने मिलकर बनाया था

ब्रह्मोस मिसाइल में क्या खास है

यह सुपर सोनिक मिसाइल है इसे कई जगह से फायर कर सकते हैं सुपर सोनिक मिसाइल उसे कहते हैं जो आवाज की रफ्तार से भी तेज चलता हो

यह ब्रह्मोस मिसाइल (3.5 मेगा ) जो ध्वनि की चाल से 3 गुना तेज चलता है यह 1.2 किलोमीटर और सेकेंड की रफ्तार से चलता है

यह क्रूज मिसाइल है क्रूज मिसाइल 4 मीटर से लेकर 15 किलोमीटर ऊंचाई तक जाता है लगभग 50 मीटर की ऊंचाई से निकलता है इसलिए इसे ट्री वाली मिसाइल भी कहते हैं

ब्रह्मोस मिसाइल की रेंज कितनी है

इस मिसाइल की मारक क्षमता 290 किलोमीटर से 600 किलोमीटर तक है और जल्द ही डीआरडीओ ने कहा है कि 800 किलोमीटर मारक क्षमता वाली मिसाइल भी तैयार हो जाएगी

यह ब्रह्मोस मिसाइल को कहीं से भी लांच किया जा सकता है जमीन पर पानी के अंदर पानी के ऊपर और हवा में भी लांच किया जा सकता है

यह दुनिया का एकमात्र ऐसा मिसाइल है जो 80 डिग्री के एंगल पर भी घूम सकता है

क्या ब्रह्मोस से S-400 को हरा सकता है

ब्रह्मोस एरोस्पेस के CEO और MD अतुल दिनकर राणे ने In an exclusive interview with The Week में कहा कि ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल देश का ब्रह्मास्त्र है यह दुनिया में इकलौता सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल है यह मिसाइल चीन के तैनात S-400 एयर डिफेंस सिस्टम भी कुछ नहीं बिगाड़ सकता है

ब्रह्मोस मिसाइल कैसे काम करती है और इस में कौन सा इंजन लगा होता है

ब्रह्मोस मिसाइल में Ramjet इंजन लगा होता है इंजन की सबसे बड़ी खराबी होती है कि यह डायरेक्ट स्टार्ट नहीं होता है इसको स्टार्ट होने के लिए बहुत तेज स्पीड चाहिए जिससे इसके आगे वाले हिस्से में बहुत तेज हवाएं जाएंगी और अंदर घुसकर पीछे के छोटे से छेद से निकलती हैं तब यह स्टार्ट होता है इस इंजन को हाई स्पीड देने के लिए इसके पीछे मजबूत इंजन लगा दिया जाता है यह इंजन राकेट को बहुत तेज धक्का देता है जिससे इसके आगे वाले हिस्से में बहुत तेज हवाएं जाती है और इसके पीछे छोटी सी जगह से निकलती हैं तब Ramjet इंजन स्टार्ट हो जाता है

Leave a comment